Looking for our company website?  
अरहर में फली छेदक इल्ली का नियंत्रण
अरहर की फसल में फली छेदक इल्ली के नियंत्रण के लिए इमामेक्टिन बैंजोएट 5% एस. जी. @100 ग्राम प्रति एकड़ 200 लीटर पानी या क्लोरोन्ट्रेनिलीप्रोल 18.5% एस. सी. @ 60 मिली...
आज का सुझाव  |  AgroStar एग्री-डॉक्टर
55
0
अनार की अधिकतम उपज के लिए पोषक तत्व प्रबंधन
किसान का नाम - श्री युवराज राज्य- कर्नाटक सलाह - प्रति एकड़ 13:0:45 @ 5 किलो ड्रिप के माध्यम से दिया जाना चाहिए।
आज का फोटो  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
272
4
मूली में पोषण प्रबंधन
मूली में खाद एवं उर्वरकों का उपयोग मृदा परीक्षण के आधार पर करें। सामन्यतः मूली की फसल को 100 क्विंटल प्रति एकड़ अच्छी सड़ी गोबर की खाद खेत की तैयारी करते समय देनी चाहिए।...
आज का सुझाव  |  AgroStar एग्री-डॉक्टर
74
0
फूलगोभी की अच्छी गुणवत्ता के लिए उपयुक्त पोषक तत्व प्रबंधन
किसान का नाम - श्री गोपाल कुशवाह राज्य - मध्यप्रदेश सलाह - सूक्ष्म पोषक तत्वों का 20 ग्राम प्रति पंप छिड़काव करें।
आज का फोटो  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
261
3
गेहूँ में खरपतवार नियंत्रण
गेहूं में संकरी और चौड़ी पत्ती के खरपतवारों के नियंत्रण हेतु क्लोडिनाफ़ॉप प्रोपेरगिल 15% + मेटस्लफयूरोन मिथाइल 1%WP@ 160 ग्राम प्रति एकड़ 200 लीटर पानी में घोलकर बुआई...
आज का सुझाव  |  AgroStar एग्री-डॉक्टर
360
20
अरंडी की फसल में अधिकतम उपज के लिए उचित पोषक तत्व प्रबंधन
किसान का नाम - श्री बारसोदिया विमल राज्य- गुजरात सलाह - प्रति एकड़ 50 किलो यूरिया मिट्टी के माध्यम से दिया जाना चाहिए।
आज का फोटो  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
314
1
सरसों के आरा मक्खी का एकीकृत कीट प्रबंधन
कनाडा दुनिया में सरसों का सबसे बड़ा उत्पादक देश है। भारत में, राजस्थान के बाद सरसों के उत्पादन के लिए उत्तर प्रदेश पहले स्थान पर है। मध्य प्रदेश, हरियाणा, पंजाब, गुजरात...
गुरु ज्ञान  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
131
2
ईसबगोल में माहू का नियंत्रण
ईसबगोल फसल में माहू का प्रकोप सामान्यतः बुवाई के 60-70 दिन की अवस्था पर होता है। यह सूक्ष्म आकार का कीट पत्तियों, तना एवं बालियों से रस चूसकर नुकसान पहुंचाता है। इसकी...
आज का सुझाव  |  AgroStar एग्री-डॉक्टर
68
0
बैंगन में फल छेदक का प्रकोप
किसान का नाम - श्री पूनम कुमार पेरपार राज्य- छत्तीसगढ़ सलाह - क्लोरेंट्रानिलिप्रोएल 18.5% एससी @ 4 मिली प्रति पंप छिड़काव करें।
आज का फोटो  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
410
42
भिंडी की फसल में शीर्ष व फल बेधक कीट का प्रकोप
भिंडी की फसल में शीर्ष व फल बेधक कीट नियंत्रण के लिए स्पिनोसेड 45 % एससी @ 40 मिली प्रति एकड़ 200 लीटर पानी के साथ छिड़काव करें।
आज का सुझाव  |  AgroStar एग्री-डॉक्टर
63
0
गन्ने की फसल में पोषक तत्वों की कमी
किसान का नाम - श्री तुषार पवार राज्य- महाराष्ट्र सलाह - फेरस सल्फेट 19% @ 2.5 ग्राम प्रति लीटर पानी के साथ छिड़काव करें।
आज का फोटो  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
140
6
आलू में माहू का नियंत्रण:
आलू में माहू के नियंत्रण हेतु इमिडाक्लोप्रिड़17.8 % एस.एल. @ 40 मिली प्रति एकड़ 200 लीटर पानी में घोलकर छिड़काव करें।
आज का सुझाव  |  AgroStar एग्री-डॉक्टर
106
5
नींबू की अच्छी गुणवत्ता के लिए उचित पोषक तत्व प्रबंधन
किसान का नाम - श्री. पी.एम.भोरगड़े राज्य- महाराष्ट्र सलाह - प्रति एकड़ 0:52 34 @ 3 किलो ड्रिप के माध्यम से दिया जाना चाहिए।
आज का फोटो  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
387
5
बैंगन में पुष्प एवं फल झड़न की रोकथाम
बैंगन में फूल एवं फल झड़ने की रोकथाम के लिए पुष्पन अवस्था पर प्लानोफिक्स (अल्फा नेप्थिल एसिटिक एसिड ) 4.5% एस. एल. 3.3 मिली प्रति 15 लीटर पानी में घोलकर 20 दिन के अंतराल...
आज का सुझाव  |  AgroStar एग्री-डॉक्टर
94
3
आकर्षक और स्वस्थ करेला की फसल
किसान का नाम: श्री. उमेश दीवान राज्य: छत्तीसगढ़ सलाह: प्रति एकड़ 19:19:19 @ 3 किलो ड्रिप के माध्यम से दें, एवं सूक्ष्म पोषक तत्वों का 20 ग्राम प्रति पंप छिड़काव करें।
आज का फोटो  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
287
2
टमाटर में फल छेदक इल्ली का नियंत्रण
टमाटर में फल छेदक इल्ली के नियंत्रण के लिए फ्लूबेंडामाइड़ 20% डब्ल्यू. जी. 50 ग्राम प्रति एकड़ 200 लीटर पानी या क्लोरोन्ट्रेनिलीप्रोल 18.5% एस.सी. 60 मिली प्रति एकड़ 200...
आज का सुझाव  |  AgroStar एग्री-डॉक्टर
102
6
अदरक की फसल में कवक का संक्रमण
किसान का नाम: श्री. राम गरड़ राज्य: महाराष्ट्र सलाह: मैटालैक्सिल 4% + मैन्कोजेब 64% @ 30 ग्राम प्रति पंप छिड़काव करें।
आज का फोटो  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
237
15
मिर्च में विषाणु जनित रोग लीफ कर्ल की रोकथाम
मिर्च में विषाणु जनित रोग लीफ कर्ल की रोकथाम हेतु रोगग्रस्त पौधों को उखाड़कर नष्ट करें एवं रोग वाहक कीट सफेद मक्खी के नियंत्रण के लिए डायफेनथूरान 50% डब्ल्यू.पी. @ 250...
आज का सुझाव  |  AgroStar एग्री-डॉक्टर
123
2
मिर्च की फसल में रस चूसक कीटों का प्रकोप
किसान का नाम: श्री. सुरेश पटेल राज्य: गुजरात सलाह: फिप्रोनिल 5 % एस.सी. @ 400 मिली प्रति एकड़ 200 लीटर पानी में घोलकर छिडकाव करें।
आज का फोटो  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
275
16
ईसबगोल में मदुरोमिल आसिता (Downy mildew) की रोकथाम
ईसबगोल में मदुरोमिल आसिता रोग के प्रकोप की प्रारम्भिक अवस्था पर मेंकोजेब 64%+मेटालेक्सिल 4% डब्ल्यू.पी. घुलनशील चूर्ण 400 ग्राम दवा प्रति एकड़ 200 लीटर पानी में घोलकर...
आज का सुझाव  |  AgroStar एग्री-डॉक्टर
64
0
और देखिए