Looking for our company website?  
AgroStar Krishi Gyaan
Pune, Maharashtra
12 Jul 18, 10:00 AM
गुरु ज्ञानएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
मानसू में भिन्डी में होनेवाली तना और फल भेदक इल्ली की व्यवस्था
गर्मियों के मौसम में उगाई जाने वाली भिंडी से मॉनसून के मौसम में उगाई जाने वाली भिंडी में चित्तीदार सूंडी और हेलिकॉवेर्पा लार्वा का उपद्रवअधिक होता है। दोनों प्रकार के लार्वा इस फसल के तना और फलों को नुकसान पहुंचाते है। एकीकृत व्यवस्था • उपद्रव की शुरूआत पर, नीम तेल 50 मि.ली. या नीम आधारित फॉर्मूलेशन 20 मि.ली. (1 ईसी) से 40 मि.ली. 0.15 ईसी 0 या वर्टिसिलियम लैकानी, कवक आधारित पाउडर 40 ग्राम प्रति 10 लीटर पानी का छिड़काव शाम के समय करें।10 दिनों के अंतराल पर इसे दोहराएं। • वयस्क लार्वा की संख्या को कम करने के लिए, @ 40 प्रति हेक्टेयर @चित्तीदार सूंडी / हेलीकॉर्पा फेरोमोन ट्रैप स्थापित करें। • लार्वा को अंदर ही मारने के लिए, प्रभावित तना को उंगली से दबाएं या इसे नष्ट इकट्टा करें और नष्ट कर दें। • फसल के नियमित कटाई करें।
• कटाई के समय पर, उपद्रव वाले फलों को अलग करें और जानवरों को खाने दें। पौधों पर अधिक परिपक्व फल न रहने दें। • बैसिलस थुरिंगिनेसिस, नामक वायरस के पाउडर 20 ग्राम या बी. बेसियाना कवक आधारित पाउडर 40 ग्राम का 10 लीटर पानी शाम के समय पर छिड़काव करें। • प्रति हेक्टेयर के लिए HaNPV(न्यूक्लियर पॉलीहेड्रोसिस वायरस) 250 LE 500 लीटर पानी में मिलाकर दें। • यदि उपद्रव बढ़ रहा है, तो फेनवलरेट 20 ईसी 10 मि.ली. या क्लोरैंट्रानिलिप्रोल 20 एससी 3 मि.ली. या एमामैक्टिन बेंजोएट 5 डब्लूजी 5 जी या साइन्ट्रानिलिप्रोल 10 ओडी 10 मिलीलीटर या डेल्टामेथ्रिन 1% + ट्रायज़ोफोस 35% ईसी 10 मि.ली. या साइप्रमेथ्रिन 10 ईसी 10 मि.ली. या डेल्टामेथ्रीन 2.8 ईसी 10 मि.ली. या लैम्ब्डा साइलोथ्रिन 4.9 सीएस 5 मि.ली. या पाइरिडियल 10 ईसी 10 मि.ली. या फेनोबुकार्ब 50 ईसी 4 मि.ली. या क्विनाफॉस 25 ईसी 20 मि.ली. 10 लीटर पानी में। डॉ. टी.एम. भरपोडा, एंटोमोलॉजी के पूर्व प्रोफेसर, बी ए कालेज ऑफ एग्रीकल्चर, आनंद कृषि विश्वविद्यालय, आनंद- 388 110 (गुजरात भारत)
85
4