Looking for our company website?  
AgroStar Krishi Gyaan
Pune, Maharashtra
18 Nov 19, 10:00 AM
सलाहकार लेखएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
सब्जी फसलों के स्वस्थ पौध तैयार करने की विधि
सब्जी फसलों में गुणवत्ता और स्वस्थ पौध का निर्माण और उत्पादन विकास के लिए उचित रोपण आवश्यक है। जिस जगह आपको शेडनेट साथ ही कोकोपीट, प्लास्टिक ट्रे उपलब्ध न हो उस जगह खेत में योग्य जगह चुनकर क्यारी तैयार करें। जगह चुनते समय ऊंचे बड़े पेड़ के निचे या बांध के किनारे तथा जगह बहुत गीली न हो। इसका ध्यान रहे। क्यारी तैयार करने से पहले खेत में एक हल चलाएं। साथ ही पहले से फसल का कूड़ाकचरा निकालकर नष्ट करें। मिट्टी में ढेले या पत्थर नहीं रहें इसका भी ध्यान रहे। जुताई करते समय इसमें अच्छे सड़े हुए गोबरखाद का मिश्रण करके रखें। मिट्टी के प्रकार, गहराई और ढलान के अनुसार कम से कम 3 मीटर लंबाई, 1 मीटर चौड़ाई एवं 15 से 20 सेंमी ऊंचाई की क्यारी तैयार करें। उसके बाद प्रत्येक क्यारी में 250 ग्राम सिंगल सुपर खाद, 150 ग्राम पोटाश, 50 ग्राम यूरिया और 30 ग्राम कार्बोफ्युरॉन कीटनाशक डालना चाहिए। इससे शुरआती चरणों में, पौधे अच्छी तरह से विकसित होंगे और कवक से पौधों की सुरक्षा होगी।
उसके बाद क्यारियों में 5 से. मी. अंतराल पर लाइन बनाकर बीज को रंगोली की तरह बीज देना चाहिए और धीरे से बीज के ऊपर मिट्टी को फैलाना चाहिए। सावधान रहें कि बीज 5 सेमी से अधिक गहराई तक नहीं होना चाहिए। बुवाई के बाद, हजारे के द्वारा या पंप का उपयोग करके क्यारी पर पानी दें। फैलाव विधि द्वारा सिंचाई नहीं करनी चाहिए। अन्यथा बीज पानी के साथ बह सकते हैं। उसके बाद दो दिन तक सुतली के थैलों (बोरियों) को गिला करके डालिए। उस पर पानी का छिड़काव पंप द्वारा करें। सुतली के थैलों (बोरियों) को डालने के कारण दोमट वातावरण तैयार होकर बीज के जल्दी अंकुरण होने में मदद करेंगे। बीज उगाने के बाद शुरुआती समय में कुछ कीट एवं रोग का प्रकोप ना हो इसके लिए एक सप्ताह में उसके ऊपर कार्बेन्डाज़िम 1 ग्राम/लीटर तथा मैंकोजेब 2 ग्राम/लीटर इस तरह फफूंद नाशक और थाइओमेथोक्साम 0.25 ग्राम/लीटर इन जैसे कीटनाशकों का छिड़काव किया जाना चाहिए। साथ ही पौधों के जोरदार विकास के लिए एवं जैविक एवं अजैविक तनाव के विरुद्ध प्रतिरोधक शक्ति निर्माण करने के लिए सिलिकॉन @1 मिली/लीटर साथ ही पौधों को मजबूत बनाने के लिए चिलेटेड कैल्शियम @10 ग्राम प्रति पंप छिड़काव करें। फसल के अनुसार जैसे मिर्च, टमाटर, बैंगन, बंद गोभी, फूल गोभी इस तरह की फसल के बीज 8-10 दिन में अंकुरित होते हैं। पूर्व बिजाई के लिए उचित पौधे चुनिए। जैसे मिर्च 35 दिन, टमाटर 25 दिन, ककड़ी/तरबूज 18 दिन। किसी भी फसल की अच्छी बढ़वार, उत्पादन और मजबूत होने के लिए अच्छे गुणवत्तापूर्ण पौधे का चुनाव करना आवश्यक है। संदर्भ - एगोस्टार एग्रोनॉमी सेंटर ऑफ एक्सीलेंस यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगे, तो फोटो के नीचे दिए पीले अंगूठे के निशान पर क्लिक करें और नीचे दिए विकल्पों के माध्यम से अपने सभी किसान मित्रों के साथ साझा करें।
148
1