AgroStar Krishi Gyaan
Pune, Maharashtra
22 Oct 18, 10:00 AM
सलाहकार लेखएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
नारंगी के बाग में रस चुसक पतंग का एकीकृत प्रबंधन।
सामान्य रूप से फल गिरना सितंबर से अक्टूबर के महीनों के दौरान देखा जाता है। फल गिरने का प्राथमिक कारण रस चुसक पतंग की बढ़ता प्रकोप होता हैं। आम तौर पर, फल का गिरना लगभग 10-15 प्रतिशत रस चुसक पतंग के प्रकोप के कारण होता हैं। 1. प्रकाश जाल का उपयोग: जब फल के परिपक्व होने का समय आता है, तब बगीचे के चार कोनों मे और केंद्र में प्रकाश के बल्ब लगाए जाते हैं। इसके प्रभावी उपयोग के लिए, नीचे एक बर्तन मे पानी और केरोसिन मिश्र कर के इसके मरक्यूरी का लेंप जलाए। यह प्रकाश रात में 10 और 11 बजे के बीच चालू रखा जाना चाहिए। 2. नारंगी के बाग मे उगने वाली खरपतवार को काट कर हटा दें। 3. यदि संभव हो, परिपक्वता के समय फलों को कागज से ढकें । 4. जब तक कि फल परिपक्व हो और तोड़ने के लिए तैयार हो रहे हो तब तक 10-15 दिनों के अंतराल पर नीम तेल 50 मिलीलीटर प्रति पम्प का छिडकाव करें।
5. शाम के समय के दौरान, बगीचे के चारों ओर धुआं करने के लिए घास जलाएं। 6. यदि यह सब उपाय के बावजूद रस चुसक पतंग का प्रकोप देखा जाता है, तो रासायनिक कीटनाशकों के उपयोग की सिफारिश की जाती है। एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
140
7