AgroStar Krishi Gyaan
Pune, Maharashtra
26 Jan 19, 01:00 PM
कृषि वार्ताआउटलुक एग्रीकल्चर
भारत से चीनी आयात करेंगे इंडोनेशिया और मलेशिया!
चीनी के बंपर उत्पादन के साथ ही किसानों के बढ़ते बकाए से परेशान केंद्र सरकार चीनी का निर्यात बढ़ाने का प्रयास कर रही है। इसके तहत इंडोनेशिया और मलेशिया ने भारत से चीनी आयात करने की रुचि दिखाई है लेकिन साथ ही पॉम तेल के आयात पर शुल्क घटाने की शर्त रख दी है। इंडोनेशिया और मलेशिया लगभग 11 से 13 लाख टन चीनी का आयात कर सकते हैं, अत: पॉम तेल आयात पर शुल्क में कटौती पर खाद्य मंत्रालय, विदेश मंत्रालय और वाणिज्य मंत्रालय बातचीत कर रहे हैं। चालू पेराई सीजन में अभी तक केवल 6.5 लाख टन चीनी निर्यात के सौदे हुए हैं जबकि केंद्र सरकार ने 50 लाख टन निर्यात की अनुमति दी है। केंद्र सरकार चीन, बांग्लादेश, श्रीलंका, इंडोनेशिया और मलेशिया को चीनी निर्यात की संभावनाएं तलाश रही है इसके लिए इन देशों में टीमें भेजी गई थीं। भारत से चीन ने पहले भी चीनी आयात की है। बांग्लादेश और श्रीलंका भी आयात कर रहे हैं। चीनी की उपलब्धता ज्यादा
इंडियन शुगर मिल्स एसोसिएशन (इस्मा) के अनुसार चालू पेराई सीजन 2018-19 में चीनी का कुल उत्पादन 320 लाख टन होने का अनुमान है। बकाया स्टॉक से चीनी की कुल उपलब्धता 427 लाख टन रहेगी। देश में चीनी की सालाना खपत 255 से 260 लाख टन होती है। ऐसे में घरेलू बाजार में चीनी की बंपर उपलब्धता है। विश्व बाजार में कीमतें कम होने के कारण केंद्र द्वारा रियायत के बावजूद सीमित मात्रा में ही निर्यात सौदे हुए हैं। स्रोत – आउटलुक एग्रीकल्चर, 18 जनवरी 2019
2
0