Looking for our company website?  
AgroStar Krishi Gyaan
Pune, Maharashtra
01 Sep 19, 06:30 PM
पशुपालनNDDB
पशुपालक कैलेंडर: सितंबर में ध्यान देने वाली बातें
• अच्छा मानसून होने पर पशुशाला में जल भराव समस्या होने से रोगों की प्रबल सम्भावना रहती है, अतः वर्षा जल निकासी का योग्य प्रबंधन करें। • पशुओं को संभव हो तो सूखे और ऊंचे स्थान पर रखें। • चारे का उपयुक्त भण्डारण सूखे और ऊंचे स्थान पर करें। • बाड़े की साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें। समय-समय पर फर्श और दीवारों पर चूने के घोल का छिड़काव करें । • वातावरणीय तापमान में उतार-चढ़ाव से पशुओं को बचाने के उपायों पर ध्यान दें। • पशुओं का परजीवियों से बचाव करें। पशु के मद (हीट) में आने के 12 से 18 घंटे के अन्दर गाभिन करवाने का उचित समय है । • इस मौसम में हरे चारे की बहु-उपलब्धता के कारण पशुओं में अधिक सेवन से संबंधी समस्याओं से बचने के लिए पशुओं को बाहर खुले में चरने के लिए नहीं भेजे। लवण-मिश्रण को चारे/दाने के साथ दें। • हरे चारे के साथ सूखे चारे को मिलाकर खिलाएं। • इस माह में भेड़ के ऊन कतरने का कार्य करें। स्रोत : NDDB And FAO
यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगे, तो फोटो के नीचे दिए पीले अंगूठे के निशान पर क्लिक करें और नीचे दिए विकल्पों के माध्यम से अपने सभी किसान मित्रों के साथ साझा करें।
811
2