Looking for our company website?  
AgroStar Krishi Gyaan
Pune, Maharashtra
30 Nov 19, 06:30 PM
जैविक खेतीएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
ऐसे लें उच्च गुणत्तापूर्ण उत्पादन!
वर्तमान समय में, कीट और रोग नियंत्रण के लिए रासायनिक कीटनाशकों और कवकनाशी का व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है। इसके कारण निम्नलिखित दुष्प्रभाव होते हैं। • उत्पाद में रासायनिक घटकों के अंश पाए जाते हैं, इससे विभिन्न रोग होने की संभावना मनुष्यों के साथ-साथ जानवरों में भी बढ़ जाती है। • अधिकतर रसायनों के इस्तेमाल पर किसानों का खर्च बढ़कर उत्पाद में कमी आती है। • इससे जल, वायु, और मिट्टी की गुणवत्ता में जैव विविधता पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। • इसके लिए एकीकृत कीट और रोग प्रबंधन की आवश्यकता होती है।
कीट और रोग प्रबंधन रोपण या बीजों के अंकुरण के बाद पीले और नीले रंग के चिपचिपे जाल लगाएं। फसल में फूल अवस्थापूर्व फेरोमेन जाल का उपयोग करें। ताकि यह फसल में किसी भी रसचूसक कीट और फल छेदक कीटों का संक्रमण कितने प्रतिशत है वो समझ सके। फसल की वृद्धि अवस्था के अनुसार और कीटों के प्रकोप से सही रसायन चुनकर छिड़काव करना आसान हो जाता है। शुरुआत में जैविक कीटनाशक दवाओं का उपयोग छिड़काव के लिए किया जाना चाहिए, इसके बाद रासायनिक दवाईओं का उपयोग किया जाना चाहिए। साथ ही फसल में बार-बार एक ही रसायन के प्रयोग से बचना चाहिए। सही खुराक, छिड़काव के लिए उचित समय और उचित विधि को ध्यान में रखना आवश्यक है। इसके अलावा, किसी भी कीट के प्रकोप एवं रोग संक्रमण और कौनसी फसल है इसके अनुसार छिड़काव करना चाहिए। दवाइयों का छिड़काव करते समय मशीन का नोजल चुनना दवाइयों के अनुसार करना चाहिए। इसके अलावा, विभिन्न रासायनिक दवाईओं का मिश्रण करने से पहले, यह जांच करना महत्वपूर्ण है कि क्या यह उपयुक्त है या नहीं। तैयार किए गए मिश्रण दो घंटे से अधिक नहीं रखना चाहिए। रसायनों का उचित प्रबंधन: छिड़काव करते समय मित्र कीटों का उपयोग किया जाना चाहिए। छिड़काव करने के बाद खाली रासायनिक बोतलों एवं खाली पैकेटों को नष्ट किया जाना चाहिए, सावधानी रखें कि खेत के साथ-साथ, छोटे बच्चों, जानवरों, पक्षियों, पानी, मिट्टी और हवा से संपर्क न आने दें। छिड़काव मशीनों को उपयोग करने से पहले और उपयोग के बाद साफ किया जाना चाहिए। उपरोक्त कारणों को ध्यान में रखते हुए, फसल प्रबंधन निश्चित रूप से अतिरिक्त रसायनों के उपयोग को कम करेगा और कीटों और बीमारियों को नियंत्रित करके उत्पादन की गुणवत्ता बढ़ाएगा। यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगती है, तो फोटो के नीचे पीले अंगूठे के निशान पर क्लिक करें और नीचे दिए गए विकल्प के माध्यम से अपने सभी किसान मित्रों के साथ शेयर करें!
116
0