AgroStar Krishi Gyaan
Pune, Maharashtra
28 Mar 19, 10:00 AM
गुरु ज्ञानएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
फसल पारिस्थितिकी तंत्र में पर्यावरण अनुकूल कीट प्रबंधन
कीटनाशकों के अंधाधुंध और अनावश्यक छिड़काव से नैसर्गिक शत्रु पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। साथ ही खड़ी फसल पर रासायनिक अवशेष भी रह जाते हैं। इनसे हमारे पर्यावरण पर भी प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। आईए जानते हैं कुछ परभक्षियों के बारे में और उनसे फसल के लिए क्या लाभ है।
1. लेडीबर्ड बीटल : वयस्क और इल्ली फसल को नुकसान पहुंचाने वाले एफिड्स को खाते हैं और उनकी आबादी को कम करते हैं।_x000D_ 2. क्राइसोपरला : इस कीट की इल्ली रस शोषक कीटों को खाता है जैसे, एफिड्स, सफेद मक्खी, थ्रिप्स, जैसिड्स और साथ ही अंडे और पत्ती खाने वाले कैटरपिलर।_x000D_ 3. सिरिफिड मक्खी : इस मक्खी का लार्वा विभिन्न प्रकार के छोटे रस शोषक वाले कीड़ों को खाता है। _x000D_ 4. ड्रैगनफ्लाई : ये लगातार उड़ने वाले और सक्रिय परभक्षी हैं। यह वयस्क और छोटे कीटों के साथ-साथ उड़ने वाली तितलियों को भी खाते हैं।_x000D_ 5. जियोकोरिस : यह कीट सभी प्रकार के छोटे रस शोषक कीटों के साथ-साथ पत्तों को खाने वाले कैटरपिलर के अंडे को भी खाता है। _x000D_ 6. रेडुविड बग : यह रस शोषक कीट पत्ती को खाने वाले कैटरपिलर के अंडों का खा लेता है और उन्हें नष्ट कर देता है।_x000D_ 7. टाइगर बीटल : ये बीटल फसल को नुकसान पहुंचाने वाले व्हाइट ग्रब्स को खाते हैं।_x000D_ 8. पेंटाटोमिड बग : यह वयस्क कीट विभिन्न इल्ली से सैप को चूसता है और उन्हें मार डालता है।_x000D_ 9. प्रेइंग मेंटिड : यह कीट अपने आगे के पैरों से छोटे और बड़े कीटों को पकड़कर उन्हें का लेता है। _x000D_ 10. मकड़ियां : ये हमारी फसलों को नुकसान पहुंचाने वाले सभी प्रकार के कीड़ों को खाती हैं।_x000D_ 11. परभक्षी पक्षी : काले डोंगो और कबूतर जैसे पक्षी हमारी फसलों को नुकसान पहुंचाने वाले कीटों को खाते हैं और मिट्टी में मौजूद कीटों को भी।_x000D_ _x000D_ ऐसे अन्य परभक्षी प्रकृति में मौजूद हैं, उनका संरक्षण करें डॉ. टी.एम. भरपोडा, एंटोमोलॉजी के पूर्व प्रोफेसर, बी ए कालेज ऑफ एग्रीकल्चर, आनंद कृषि विश्वविद्यालय, आनंद- 388 110 (गुजरात भारत) यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगे, तो फोटो के नीचे दिए पीले अंगूठे के निशान पर क्लिक करें और नीचे दिए विकल्पों के माध्यम से अपने सभी किसान मित्रों के साथ साझा करें।
316
3