AgroStar Krishi Gyaan
Pune, Maharashtra
03 Jun 19, 10:00 AM
सलाहकार लेखAgroStar एग्री-डॉक्टर
कपास में मिलीबग को नियंत्रित करने के लिए सलाह
इन पद्धतियों का पालन करें। फसल की पहले कटाई: 1) अंतिम तुड़ाई के तुरंत बाद और दो फसल सीज़न के बीच करना चाहिए। इससे मिलीबग को भोजन की निरंतर आपूर्ति कम हो जाती है। 2) अंतिम तुड़ाई के बाद कपास की फसल को तुंरत हटाएं और खरपतवार को भी हटाएं। साथ ही ध्यान रखें एक ही बार की बुवाई से दूसरी कपास की फसल (रैटून क्रॉप) न लें। कपास के डंठल हटाएं: 1) खेत की जुताई से पहले सूखे कपास के डंठल को खेतों से निकालकर या काटकर जला देना चाहिए। साफ खेती: खर-पतवार, विशेष रूप से कांग्रेस घास और ज़ेन्थियम, मिलीबग के लिए सबसे उपयुक्त मेजबान पौधे हैं जो उन्हें जीवित रहने और बढ़ने में सहायता करते हैं। पार्थेनियम घास के लिए जैविक नियंत्रण: पार्थेनियम घास पर जाइगोग्रामा बाईक्लोराटा @ 500-1000 बीटल/ हेक्टेयर छोड़ें। हाथ से भी खर-पतवार को हटाएं। मेढ़ों पर खर-पतवारनाशक+कीटनाशक का छिड़काव करें। कपास मिलीबग के लिए ट्रैप फसल का उपयोग: जहां भी संभव हो, अरहर, बाजरे या मक्का को खेत के मेढ़ पर उगाएं। कपास के खेतों के चारों ओर अरहर, बाजरे या मक्का का घना रोपण दो पंक्तियों में करना चाहिए। साथ ही संभव हो तो कपास फसल की 5-6 पंक्तियों के बाद 1- 2 पंक्तियां अंतर-फसल लगाएं ताकि कीटों की सही से निगरानी हो सके। इससे कपास में मिलीबग का नियंत्रण होता है। साप्ताहिक निगरानी से, कीट को प्रभावी ढंग से प्रबंधित किया जा सकता है और संक्रमण को शुरुआती चरणों में ही नियंत्रित किया जा सकता है। मिलीबग का जैविक नियंत्रण: 1) नीम के बीज की गिरी का अर्क (NSKE 5%) 5मिली/लीटर + नीम का तेल 5 मिली/ लीटर + डिटर्जेंट पाउडर 1ग्राम/ लीटर का संक्रमित डंठल पर छिड़काव करें। 2) मछली का तेल रोसिन तरल 10 मिली को नीम 10 मिली/ ली या करंज तेल 10 मिली / ली के साथ मिलाकर छिड़काव किया जा सकता है। 3) प्रति पौधे 10 क्रिप्टोलेमस मोंट्रोज़िएरी वयस्क/इल्ली परभक्षी छोड़ें। 4) बायोपेस्टीसाइड्स वर्टिसिलियम लेकेनी (पोटेंसी 2 एक्स 108 सी.एफ.यू / ग्राम) 10 ग्राम/ली और बेवेरिया बेसियाना (पोटेंसी 108 स्पोर्स / एमएल) 10 मि.ली /ली का छिड़काव करें। रासायनिक नियंत्रण: 1) ऐसफेट, 75 एसपी 1 ग्राम/ लीटर, मैलाथियान 50 ईसी 2 मिली/ ली, बुप्रोफेजिन 25 एससी 1 मिली/ ली जैसे कम विषैले कीटनाशकों का छिड़काव करें। 2) अंतिम विकल्प के रूप में, मामूली विषैले कीटनाशकों का छिड़काव करें। क्विनलफॉस 25 ईसी 5.0 मिली / ली., क्लोरोपायरीफॉस 20 ईईसी 3.0 मि.ली. /ली. प्रोफेनोफोस 50 ईसी 5.0 मिली थायोडाइकार्ब 75 डब्ल्यूपी 5.0 ग्राम/ ली। संदर्भ: सीआईसीआर, नागपुर, कपास में मिलिबग के लिए पैकेज ऑफ प्रैक्टिस।
और अधिक जानकारी के लिए एग्रोस्टार के एग्रीडॉक्टर्स से 1800-120-3232 पर मिस कॉल देकर बात करें।
43
4